akbarpurallahabadArrahbankaBhagalpurBiharCrimeDelhiEntertainmentfaizabadGayagodda jharkhandgondaJehanabadjharkhandkatiharkishanganjLife TVLifestyleLiteraturelucknowmadhehpuramotihariMuzaffarpurNalandananitalNationalNewsPatnaPoliticspurniaranchi jharkhandsitapurSiwanSportssultanpursupualtandautranchalUttar Pradeshvaranasiwest bengalyatyat thana

भागवत कथा से होती है मोक्ष की प्राप्ति: पंकज मामा जी महाराज

भागलपुर बिहार

श्रीमद् भागवत सप्ताह ज्ञान यज्ञ का आयोजन 11 जनवरी से,कोविड-19 के नियमों का पालन करते हुए भक्तजन भक्ति रस में लगाएंगे गोता

भागलपुर : स्थानीय उल्टापुल के पुर्व के मालगोदाम स्थित श्री श्री 108 इच्छापूर्ण हनुमान मंदिर के परिसर में श्रीमद् भागवत कथा सप्ताह ज्ञान यज्ञ का आयोजन 11 जनवरी से 17 जनवरी तक आयोजित करने की तिथि तय की गई है.इच्छापूर्ण हनुमान मंदिर के समस्त भक्तजनों के संयोजन में श्याम प्रभु की असीम अनुकंपा से श्रीमद् भागवत कथा ज्ञान यज्ञ का शुभारंभ अष्ट दिवसीय कथा का भव्य आयोजन अपराह्न 1 बजे से शाम 6 बजे तक किया जाएगा,जिसमें कथावाचक संत श्री नारायण दास भक्त माली मामा जी महाराज, बक्सर वाले के सदशिष्य महंत पंडित प्रिया प्रियतमशरण पंकज मामा जी महारज,वृंदावन की विशेष उपस्थिति होंगी.
आयोजित कथा ज्ञान यज्ञ में कोविड-19 के मद्देनज़र सारे नियमों का पालन करते हुए भक्तिरस की गंगा में भक्तजन गोता लगाते हुए नजर आएंगे.इसकी तैयारी युद्ध स्तर पर की जा रही है.
आयोजक मंडल ने बताया कि कथा ज्ञान के अमृत वर्षा के प्रथम दिन कथावाचक महंथ पंडित प्रिया प्रियतमशरण पंकज मामा जी महाराज के द्वारा मोक्ष के लिए ज्ञान दिया जाएगा.उन्होंने कहा कि ऐसे कथा में जो मंगल कलश होता है, वह धर्म का प्रतीक होता है और वह हमेशा शुभ कार्य में स्थापित होता है और कोई धर्म कार्य करते हैं,उसकी स्थापना के लिए उसको हम स्थापित करते हैं.उन्होंने कहा कि श्रीमद् भागवत कथा हमें मोक्ष प्रदान करने वाली है,जो इसको भाव पूर्वक सुनता है- उसका कल्याण होना अनिवार्य है.राजा परीक्षित ने भी 7 दिन में कथा सुनी और मोक्ष की प्राप्ति की. भगवान की कृपा प्राप्त करने के लिए हमें भगवान की शरण में ही जाना पड़ेगा.उनके श्रीमद्भागवत कथा रूपी ग्रंथ से ही किसी संत के मुख से कथा का श्रवण करना पड़ेगा, उसी से हमारी मुक्ति संभव है और तभी हमारा कल्याण है.
महंथ पंकज जी महाराज ने कहा कि उनका एक ही सपना है कि लोगों खासकर युवा पीढ़ी को सुसंस्कृत करने और सनातन धर्म की रक्षा की खातिर भागलपुर में एक मानस मंदिर यानी एक ऐसा मानस पाठशाला का निर्माण हो,जहां एक साथ रामायण-महाभारत,वेद-पुराण व गीता का पठन-पाठन हो.उन्होंने 11 जनवरी से 17 जनवरी तक आयोजित श्रीमद् भागवत कथा सप्ताह ज्ञान यज्ञ के उपरांत भागलपुर के विद्वत जनों एवं भक्तजनों से उक्त विषय पर राय-परामर्श के साथ सहयोग की भी अपेक्षा की है.

फोटो : महंत पंडित प्रिया प्रियतमशरण पंकज मामा जी महारज व 11 जनवरी से होने वाले कथा यज्ञ का पर्चा

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button