akbarpurallahabadArrahbankaBhagalpurBiharCrimeDelhiEntertainmentfaizabadGayagodda jharkhandgondaJehanabadjharkhandkatiharkishanganjLife TVLifestyleLiteraturelucknowmadhehpuramotihariMuzaffarpurNalandananitalNationalNewsPatnaPoliticspurniaranchi jharkhandsitapurSiwanSportssultanpursupualtandautranchalUttar Pradeshvaranasiwest bengalyatyat thana

प्रमंडलीय आयुक्त, भागलपुर प्रमंडल, भागलपुर की अध्यक्षता में दिनांक 07-01-2022 को 11:00 बजे पूर्वाहन में “COVID-19” से सम्बन्धित विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से समीक्षात्मक बैठक की कार्यवाही।

भागलपुर बिहार

सर्वप्रथम विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से उपस्थित सभी पदाधिकारियों का अभिवादन करते हुए बैठक की कार्यवाही प्रारंभ की गई। इस बैठक में भागलपुर प्रमण्डल अन्तर्गत निर्देशित सभी पदाधिकारी यथा पुलिस उप महानिरीक्षक, पूर्वीय क्षेत्र, भागलपुर जिला पदाधिकारी, भागलपुर / बांका, वरीय पुलिस अधीक्षक भागलपुर पुलिस अधीक्षक नवगछिया / बांका, अधीक्षक, जवाहर लाल नेहरू चिकित्सा महाविद्यालय अस्पताल, भागलपुर सिविल सर्जन, भागलपुर / बांका आदि विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से उपस्थित थे।

  1. बैठक में कोरोना के तीसरी लहर की आशंका के मद्देनजर की गई आवश्यक तैयारियों के साथ-साथ COVID टीकाकरण, COVID संक्रमण की Testing की स्थिति कोरोना से निपटने हेतु उपलब्ध चिकित्सकीय व्यवस्था के साथ-साथ मास्क पहनने के प्रति लोगों को जागरूक करने एवं मास्क के बिना बाहर निकलने वालों को जुर्माना किये जाने की स्थिति की गहन समीक्षा की गई।
  2. COVID टीकाकरण में भागलपुर जिला अन्तर्गत 17.12.766 व्यक्तियों को प्रथम डोज दिया जा चुका है, जिसकी उपलब्धि 70.8% है तथा 12,32,209 व्यक्तियों को दूसरा डोज भी दिया जा चुका है, जिसकी उपलब्धि 86.7% है। इसी प्रकार, बांका जिला अन्तर्गत 1146,769 व्यक्तियों को प्रथम डोज दिया जा चुका है, जिसकी उपलब्धि 70.8% है तथा 8,31,836 व्यक्तियों को दूसरा डोज भी दिया जा चुका है, जिसकी उपलब्धि 87.8% है। कोविड टीकाकरण के पहले डोज में भागलपुर एवं बांका की राज्य स्तर पर रैकिंग क्रमशः 16 एवं 17 है, जबकि दूसरे डोज में राज्यस्तरीय रैंकिंग क्रमश: 25 एवं 22 है। जिला पदाधिकारी भागलपुर / बांका तथा सिविल सर्जन, भागलपुर / बांका को टीकाकरण में तेजी लाने हेतु आवश्यक कदम उठाने एवं विशेष अभियान चलाने का निदेश दिया गया।
  3. जिला पदाधिकारी, बांका द्वारा बताया गया कि जिले में 2-3 जनजातीय प्रखण्डों में टीकाकरण की प्रगति कम हुई है, जिस पर विशेष रूप से Focus किया जा रहा है। जिला पदाधिकारी, बांका द्वारा यह भी बताया गया कि टीकाकरण की व्यवस्था में किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं बरती जा रही है और जरूरत पड़ने पर मार्केटिंग ऑफिसर, बी.एल.ओ. आशा कार्यकर्ता आदि का सहयोग भी इस कार्य हेतु लिया जा रहा है। उपस्थित पदाधिकारियों को टीकाकरण में तेजी लाने के लिए दैनिक टारगेट और दैनिक उपलब्धि का मूल्यांकन कर प्रगति की समीक्षा करने का निदेश दिया गया।
  4. टीकाकरण के संबंध में लोगों द्वारा Refusal की स्थिति की भी चर्चा की गई। इस संबंध में उपस्थित पदाधिकारियों को निदेशित किया गया कि लोगों को जागरूक करने के ऐसे उपाय किये जाएँ, जिससे कि लोगों का Refusal को Acceptance में बदल जाए और टीकाकरण की उपलब्धि को और अधिक बढ़ाया जा सके। टीकाकरण की प्रगति की सूक्ष्म समीक्षा कर कमजोर पक्षों को चिन्हित कर इसमें सुधार करते हुए टीकाकरण में प्रगति लाने का निदेश दिया गया है।
  5. कोरोना की तीसरी लहर के मद्देनजर उपस्थित सभी पदाधिकारियों को सचेत रहकर इस मामले में सूक्ष्म नजर रखने का निदेश दिया गया। कार्यालयों में भी COVID के लक्षण वाले कर्मियों / पदाधिकारियों के COVID जांच में किसी भी तरह की लापरवाही न बरती जाय, इस संबंध में सभी पदाधिकारियों को सख्त रहने का निदेश दिया गया।
  6. कोविड के ओमिक्रोन वेरियंट के आगमन के उपरांत प्रमंडल अन्तर्गत भागलपुर जिला में माह दिसम्बर, 2021 में नए Positive Case की संख्या 3 तथा जनवरी, 2022 में नए Positive Case की संख्या 35 रही। इसी प्रकार बांका जिला में माह दिसम्बर, 2021 में नए Positive Case की संख्या 0 लेकिन जनवरी, 2022 में नए Positive Case की संख्या 15 रही।8. भागलपुर जिले में RTPCR टेस्टिंग के 2520 टारगेट के विरूद्ध उपलब्धि 2337 है जबकि Antigen टेस्टिंग के 4780 टारगेट के विरूद्ध उपलब्धि मात्र 3008 है, जो अत्यंत ही कम है। इसी प्रकार बांका जिला में RTPCR टेस्टिंग के 1300 टारगेट के विरूद्ध उपलब्धि 1988 है जबकि Antigen टेस्टिंग के 2300 टारगेट के विरूद्ध उपलब्धि मात्र 2059 है। उपस्थित सभी पदाधिकारियों को इस संबंध में प्रगति तेज करने का निदेश दिया गया।
  7. COVID से निपटने हेतु उपलब्ध चिकित्सकीय व्यवस्था की भी गहन समीक्षा की गई। समीक्षा के क्रम में उपस्थित पदाधिकारियों द्वारा बताया गया कि COVID की इस तीसरी लहर का सामना करने के लिए चिकित्सकीय उपकरणों के मामले में कोई Issue नहीं है। उपस्थित सभी पदाधिकारियों को चिकित्सीय उपकरणों की कार्यशीलता की स्थिति पर भी विशेष ध्यान रखने का निदेश दिया गया। साथ ही इस मामले में किसी भी तरह का कोई Issue होने पर अपने उच्चतर पदाधिकारियों को अवगत कराने का निदेश उपस्थित पदाधिकारियों को दिया गया।
  8. COVID से सुरक्षा के लिए सर्वाधिक जरूरी रक्षात्मक उपाय मास्क का उपयोग है। ऐसे में लोगों को मास्क पहनने के प्रति जागरूक करने के साथ-साथ सार्वजनिक स्थलों पर मास्क न पहनने वाले को जुर्माना किये जाने की स्थिति की भी समीक्षा की गई। उपस्थित पदाधिकारियों द्वारा बताया गया कि पिछले एक सप्ताह से इस कार्य में बहुत तेजी लाई गई है। पदाधिकारीवार मास्क चेकिंग एवं जुर्माना का दैनिक समीक्षा करने का निदेश उपस्थित पदाधिकारियों को दिया गया।

अंत में सधन्यवाद बैठक की कार्यवाही समाप्त की गई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button