akbarpurallahabadArrahbankaBhagalpurBiharCrimeDelhiEntertainmentfaizabadGayagodda jharkhandgondaJehanabadjharkhandkatiharkishanganjLife TVLifestyleLiteraturelucknowmadhehpuramotihariMuzaffarpurNalandananitalNationalNewsPatnaPoliticspurniaranchi jharkhandsitapurSiwanSportssultanpursupualtandautranchalUttar Pradeshvaranasiwest bengalyatyat thana

पुण्य तिथि मनाई गई

भागलपुर बिहार
भागलपुर बिहार



दिनांक 28 दिसंबर 2021 दिन मंगलवार को पूरनमल सावित्री देवी बाजोरिया सरस्वती शिशु मंदिर नरगा कोठी ,भागलपुर के प्रांगण में विद्यालय के उपाध्यक्ष डॉ मधुसूदन झा की अध्यक्षता में विद्यालय के संस्थापक पूरनमल बाजोरिया की पुण्यतिथि मनाई गई। कार्यक्रम का प्रारंभ विद्यालय के प्रधानाचार्य नीरज कुमार कौशिक, प्रभारी प्रधानाचार्य जीतेंद्र प्रसाद, उपाध्यक्ष डॉ मधुसूदन झा ,पूर्व आचार्य प्रभाष मिश्र एवं पूर्व आचार्य केशव प्रसाद द्वारा दीप प्रज्वलित कर तथा पूरनमल बाजोरिया के चित्र पर पुष्प अर्पित कर किया।
डॉ मधुसूदन झा ने कहा कि पूरनमल बाजोरिया इस विद्यालय के संस्थापक हैं पहले इस स्थान पर कोठी था जिसमें सर्वप्रथम शिशु मंदिर प्रारंभ हुआ फिर इनके प्रयास से ही सलारपुरिया ट्रस्ट द्वारा विद्या मंदिर की स्थापना हुई। नाथनगर शिशु वाटिका एवं आनंदराम ढानढानियाँ सरस्वती विद्या मंदिर का निर्माण भी इन्हीं के परिश्रम से हुआ है। विद्या भारती को भागलपुर में जोड़ कर फिर फैलाने का कार्य उन्होंने ही किया है। उनके लिए कोई कार्य असंभव नहीं था।
प्रधानाचार्य नीरज कुमार कौशिक ने कहा कि अच्छी बातों को सुनना चाहिए उन्होंने जो बाग लगाया उसी का फल आज इस समाज को उनके द्वारा किए गए कार्यों से प्राप्त हो रहा है।
प्रभाष मिश्र ने कहा कि आज नरगा कोठी का दीप प्रज्वलित करने वाले पूरनमल बाजोरिया जी को नमन है। उनके नाम पर शिशु मंदिर एवं B.Ed कॉलेज नरगा कोठी में चल रहा है। पिछड़े व्यक्ति का सहयोग करने वाले थे। वे बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे। उनका नाम आज भी समाज ले रहा है।
प्रभारी प्रधानाचार्य जितेंद्र प्रसाद ने कहा कि पूरनमल बाजोरिया समाज के हर तबके के लिए कार्य करते थे। हमेशा अभिभावक बनकर सलाह देते थे।
केशव प्रसाद ने कहा कि पूरनमल बाजोरिया समाज के लिए अमूल्य धरोहर थे वह स्पष्टवादी एवं खुले विचार के थे। उनकी भावना और सोच को हमेशा बढ़ावा दें और इस विद्यालय को और फलीभूत करें।
आज के इस पुण्यतिथि के अवसर पर जयप्रीत मिश्र, डॉक्टर शंभू प्रसाद भगत ,अनूप लाल शाह, एवं डॉक्टर सुबोध विश्वकर्मा द्वारा भी पूरनमल बाजोरिया जी के बारे में विचार प्रस्तुत किए गए।
इस अवसर पर डॉ मधुसूदन झा, नीरज कुमार कौशिक, जितेंद्र प्रसाद, मनोज तिवारी, शशि भूषण मिश्र, अमर ज्योति ,अभिजीत आचार्य, उपेंद्र प्रसाद साह, सुबोध झा, सुबोध ठाकुर, गोपाल प्रसाद सिंह, अनिल मिश्रा, शेखर झा, अंजू रानी ,सुप्रिया कुमारी, ललिता जा, कविता पाठक, रेनू कुमारी एवं विद्यालय के भैया बहन उपस्थित थे।
मीडिया प्रभारी
शशि भूषण मिश्र

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button