BhagalpurBiharNationalNewsPatnaPolitics

जल का संरक्षण और इसका प्रदूषण से रक्षा अत्यंत जरूरी– अश्विनी चौबे

वृक्षारोपण बढ़ाना और जल की बरबादी रोकना पर्यावरण के लिए आवश्यक

“जलवायु परिवर्तन के संदर्भ में पारंपरिक जल स्रोतों का पुनरुद्धार” कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर बोले केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे

पटना, 26 नवंबर 2021

केंद्रीय पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन तथा उपभोक्ता मामले खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण प्रणाली राज्यमंत्री श्री अश्विनी कुमार चौबे कहा कि जल का संरक्षण और प्रदूषण से इसका रक्षा करना अत्यंत जरूरी है। समृद्ध पर्यावरण के लिए वृक्षारोपण को बढ़ावा देना और जल की बर्बादी को रोकना आवश्यक है। सरकारी स्तर पर काम होने के साथ सामाजिक स्तर पर इस को बढ़ावा दिया जाना चाहिए। श्री चौबे ए एन सिन्हा इंस्टिट्यूट,पटना में आयोजित “जलवायु परिवर्तन के संदर्भ में पारंपरिक जल स्रोतों का पुनरुद्धार” कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर बोल रहे थे।

केंद्रीय मंत्री श्री चौबे ने आह्वान बचाओ अभियान संगठन के द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में कहा कि जल संरक्षण और पर्यावरण रक्षा के लिए हमारी सरकार सभी जरूरी कदम उठा रही है। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी विकासशील देशों की अगवाई इस मामले में भारत ही कर रहा है। जल संरक्षण और इसका प्रदूषण से मुक्ति में सरकार नई तकनीकों का प्रयोग कर रही है। लेकिन इसमें स्थानीय लोगों की भागीदारी और परंपरागत स्रोतों की भी बहुत उपयोगिता है। इसके लिए अधिक से अधिक जल संरक्षण संरचनाओं को बचाना आवश्यक है। इसके अंतर्गत आहर वहीं को भी बचाने की आवश्यकता है जिसका लगातार अतिक्रमण होते जा रहा है।

कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय मंत्री श्री चौबे के साथ मंच पर गोपाल शर्मा, ऑफिसर इंचार्ज, जूलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया, रेनू सिन्हा, एमपी सिंहा, डॉ विजय कुमार, मनीष तिवारी, कृष्ण कांत ओझा सहित अन्य गणमान्य भी उपस्थित थे।

वेद प्रकाश,मीडिया प्रभारी,
श्री अश्विनी कुमार चौबे,
राज्यमंत्री,उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्रालय तथा पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय,भारत सरकार

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button